Latest Posts

ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर पीएम मोदी की हाई लेवल मीटिंग, अधिकारियों को दिया मुख्य निर्देश

Loading...

खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने मोर्चा संभाला और ऑक्सीजन सप्लाई के मुद्दे पर एक उच्चस्तरीय बैठक की। पीएम मोदी ने ऑक्सीजन की उपलब्धता पर समीक्षा बैठक की और अधिकारियों को ऑक्सीजन की आपूर्ति में तेजी लाने के निर्देश दिए।

कोरोना संकट के बीच देश में, ऑक्सीजन की कमी है। कई अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की मौत हो गई है। ऐसे में अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद मोर्चा संभाला और ऑक्सीजन आपूर्ति के मुद्दे पर एक उच्च स्तरीय बैठक की। पीएम मोदी ने ऑक्सीजन की उपलब्धता पर समीक्षा बैठक की और अधिकारियों को ऑक्सीजन की आपूर्ति में तेजी लाने के निर्देश दिए।

आपको बता दें कि ऑक्सीजन की कमी के बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने एक अहम बैठक की। उन्होंने देश भर में ऑक्सीजन की आपूर्ति की समीक्षा करने और इसकी उपलब्धता बढ़ाने के तरीकों और साधनों पर चर्चा करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में, अधिकारियों ने पिछले कुछ हफ्तों में ऑक्सीजन की आपूर्ति में सुधार के प्रयासों पर उन्हें सूचित किया।

ऑक्सीजन की आपूर्ति को दुरुस्त करने की कमान खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संभाली

इस दौरान पीएम मोदी ने कई पहलुओं पर तेजी से काम करने की जरूरत पर बात की। उन्होंने ऑक्सीजन का उत्पादन बढ़ाने, आपूर्ति की गति बढ़ाने और स्वास्थ्य सुविधाओं तक ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए नए तरीकों का इस्तेमाल करने पर जोर दिया।

बैठक में पीएम को बताया गया कि ऑक्सीजन की मांग और तदनुसार पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए राज्यों के साथ समन्वय किया जा रहा है। पीएम को बताया गया कि राज्यों को ऑक्सीजन की आपूर्ति कैसे बढ़ रही है। भारत सरकार ने 21 अप्रैल से 6,822 मीट्रिक टन तरल चिकित्सा ऑक्सीजन राज्यों को आवंटित की है।

इस बीच, पीएम मोदी ने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि विभिन्न राज्यों में ऑक्सीजन की आपूर्ति निर्बाध रूप से हो। स्थानीय प्रशासन के साथ तालमेल बनाकर जल्द से जल्द आपूर्ति की जानी चाहिए। इसके अलावा, पीएम ने राज्यों को ऑक्सीजन के तेजी से परिवहन सुनिश्चित करने की आवश्यकता पर बल दिया। पीएम ने इस बात पर भी जोर दिया कि राज्यों को ऑक्सीजन की जमाखोरी को सख्ती से रोकना चाहिए। लाइव टीवी

Latest Posts

Don't Miss